Month: October 2019
रोटी जितना जरूरी हैं सूर, तुलसी, मीरा, कबीर: हरियश
mm 7 Rang
October 7, 2019

रोटी, कपड़ा और मकान के बाद आदमी की सबसे बड़ी जरूरत साहित्य है। समाज के लिए बुनियादी सुविधाओं के साथ तुलसी, सूर, कालिदास, शेक्सपियर, मिल्टन, प्रेमचंद, कबीर व निराला भी जरूरी हैं। साहित्य समाज का निर्माण करने के साथ उसे दिशा देने का काम भी करता है। सुप्रसिद्ध लेखक हरि यश राय ने उक्त उद्गार प्रकट करते हुए कहा कि कविता खत्म नहीं होती जीवन के साथ चलती है।

Read More
गांधी आज और भी प्रासंगिक: संतोष ओबराय
mm 7 Rang
October 3, 2019

Read More
Copyright 2020 @ Vaidehi Media- All rights reserved. Managed by iPistis