कठपुतली के ज़रिये बच्चों का ज्ञानवर्द्धक मनोरंजन

आंवला (बरेली)।

बच्चों में बढ़ते शिक्षा के बोझ को कम करने, खेल-खेल में बच्चों को शिक्षा और  स्वच्छता की सीख देने के मकसद से सरकारी विद्यालय के शिक्षक अमर दिवेद्वी, पुष्पा अरुण, रिति उपाध्याय ने कठपुतली के पात्रों को लघु कहानियों में पिरोकर, स्कूल में बच्चों के बीच उनकी रोचक प्रस्तुति का अनोखा तरीका इजाद किया है।

इफको आंवला आफिसर्स एसोसिएशन ने शिक्षकों की इस पहल को आगे बढाने का जिम्मा लिया। स्वर्ण जयंती वर्ष के उपलक्ष्य में सुबह महिला केन्द्र और टाइनी टॉट्स स्कूल में आंमत्रित शिक्षकों ने कठपुतलियों के माध्यम से लघु कहानी का मचंन किया।

बच्चों ने टीवी कार्टून से दिखने वाली कठपुतलियों की संगीतमय प्रस्तुति ने खूब तालियां बटोरीं।

   

महिला क्लब की अध्यक्षा श्रीमती साधना गौतम ने इस अवसर पर कहा कि इससे कठपुतलियों की प्रस्तुति को बच्चों ने काफी पंसद किया और बच्चों के लिए यह मनोरंजन का नया तरीका है जिससे उन्हे काफी कुछ सीखने को मिला।

इफको आंवला आफीसर्स एसोसिएशन के महामंत्री राम सिंह ने बताया कि कठपुतली के माध्यम से गांव और शहरों में होने वाले मनोरंजन से जुड़े कार्यक्रम लगभग सीमित हो चुके हैं। बच्चों के लिए खिलाने से तैयार कठपुतली के पात्र ठीक टीवी कार्टून जैसे हैं। इस तरह के आयोजन बच्चों को शिक्षा के साथ व्यवहारिक ज्ञान से जोड़ते हैं।

टाइनी टॉट्स स्कूल में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि वरिष्ठ महाप्रबन्धक जी के गौतम ने इसे बच्चों के स्वस्थ मनोरंजन के साथ ज्ञान के एक बेहतर ज़रिये के तौर पर देखा और कहा कि इस तरह के आयोजन बच्चों के लिए ज़रूरी होने चाहिए।

कार्यक्रम में वरिष्ठ महाप्रबन्धक जी के गौतम, सुबह महिला क्लब की अध्यक्षा श्रीमती साधना गौतम, महाप्रबन्धक आई सी झा, आंवला आफिसर्स एसोसिएशन के महामंत्री राम सिंह, अध्यक्ष हरीश रावत,कठपुतली का मंचन करने वाले कलाकार अमर दिवेद्वी, पुष्पा अरुण, रिति उपाध्याय सहित टाइनी टाट्स स्कूल के शिक्षक और बडी संख्या बच्चे मौजूद थे।

Posted Date:

August 10, 2017

11:32 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright 2020 @ Vaidehi Media- All rights reserved. Managed by iPistis