प्रतिरोध के नाटकों के पर्याय हैं राजेश कुमार

उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी ने पिछले दस साल से अधर में लटके अपने सालाना पुरस्कारों का ऐलान 30 अगस्त को कर दिया। अकादमी ने एक साथ 2009 से लेकर 2018 तक के लिए 115 हस्तियों को इन सम्मानों के लिए चुना है। इनमें 2014 के लिए नाट्य लेखन के क्षेत्र में उल्लेखनीय काम के लिए राजेश कुमार को भी शामिल किया गया है। आज के दौर में राजेश जैसे रंगकर्मी और नाट्य लेखक को किसी सरकारी सम्मान के लिए चुना जाना ताज्जुब भी पैदा करता है। बेशक प्रतिरोध का नाटक लिखने वाले और हमेशा एक मज़बूत सांस्कृतिक हस्तक्षेप बनाए रखने वाले राजेश कुमार के लिए यह एक उपलब्धि है। ‘7 रंग’ परिवार उन्हें बधाई देता है।

Posted Date:

September 1, 2019

5:50 pm
Copyright 2020 @ Vaidehi Media- All rights reserved. Managed by iPistis