किशोरी अमोनकर को याद करते हुए…

शास्त्रीय गायन में उनकी आवाज़, किसी राग के भीतर तक उतर जाने और श्रोताओं को एक नई दुनिया में ले जाने की उनकी कला का जवाब नहीं था। किशोरी अमोनकर अगर आज होतीं तो 89 बरस की हो रही होतीं… 10 अप्रैल 1931 को मुंबई में जन्मीं किशोरी अमोनकर तीन साल पहले हमसे रुखसत हो गईं… लेकिन उन्होंने शास्त्रीय संगीत को जो ऊंचाई दी, वह हर शास्त्रीय संगीतप्रेमी के लिए एक अद्भुत एहसास से गुजरने जैसा है…जाने माने पत्रकार, लेखक और कवि कुलदीप कुमार ने तीन साल पहले ‘द वायर ‘ के लिए किशोरी अमोनकर पर जो लिखा, वह आपको भी पढ़ना चाहिए। 

Posted Date:

April 10, 2020

1:10 pm
Copyright 2020 @ Vaidehi Media- All rights reserved. Managed by iPistis