रंगों से सजा कल्पना का संसार

– कलाकारों ने कैनवास पर कलाकृतियों को किया जीवंत

योगी, बुद्ध, श्रीकृष्णा से लेकर प्रकृति के मनोरम दृश्यों को दिया आकार

आबू रोड (राजस्थान)। योग-साधना में लीन योगी, गोकुल में गाय के साथ बांसुरी बजाते श्रीकृष्ण, शांत मुद्रा में ध्यान की अवस्था में राजयोगी, प्रकृति का शांत वातावरण और उगते सूरज का अनुपम नजारा। ये दृश्य पेंटिंग कॉम्पटीशन कम वर्कशॉप में देखने को मिले।ब्रह्माकुमारीज संस्थान और दिल्ली के परिधि आर्ट ग्रुप की ओर से आयोजित इस प्रतियोगिता में देशभर से कलाकारों ने हिस्सा लिया।

जहां कलाकार अपनी रचनाओं में मन के भावों को आकार देने में लगे हैं, वहीं कल्पनाओं का संसार कैनवास पर नजर आ रहा है। कलाकार बहुत ही बारीकी और एकाग्रता के साथ कैनवास पर रंगों को उकेर रहे हैं ताकि उनकी पेंटिंग सबसे बेहतर हो।

ब्रह्माकुमार भाई-बहनों के साथ संस्थान की संयुक्त मुख्य प्रशासिका राजयोगिनी दादी रतनमोहिनी, मीडिया निदेशक बीके करुणा भाई पेंटिंग कॉम्पटीशन देखने मनमोहिनीवन कॉम्पलेक्स पहुंचे। उन्होंने यहां एक से बढक़र एक पेंटिंग और ब्रह्मा बाबा व दादी जानकी की जीवंत पेंटिंग देख कलाकारों की जमकर सराहना की। साथ ही सभी का हौसला बढ़ाते बेहतर कलाकार बनने के लिए प्रेरित किया। परिधि आर्ट ग्रुप दिल्ली के डायरेक्टर निर्मल वैद ने बताया कि पिछले दो दिन से 500 से अधिक कलाकार अपनी कलाकृतियों को बेहतर से बेहतर रंग देने में जुटे हैं।इनकी कलाकृति शुक्रवार तक तैयार हो जाएगी। इसके बाद सभी की एक्जीबिशन लगाई जाएगी। श्रेष्ठ कलाकृतियों का जज के पैनल द्वारा चयन कर पुरस्कृत किया जाएगा। इसके पहले सुबह राजयोग मेडिटेशन सत्र में सभी को राजयोग अभ्यास के फायदे, इसकी विधि और आत्म दर्शन, परमात्म दर्शन के बारे में विस्तार से बताया गया।

Posted Date:

October 1, 2018 9:31 pm

Tags: , , ,
Copyright 2017- All rights reserved. Managed by iPistis